Type Here to Get Search Results !

तो क्या भाजपा अपने ही कार्यकर्ताओ और वोटर्स के मरने तक इन्तजार करती है

0

 

वसुंधरा  झालावाड़ से भाजपा की वर्तमान में विधायक है

राजस्थान की सबसे बड़ी भाजपा नेत्री है वसुंधरा …. आप 4-5 वार झालावाड़ से सांसद रही है व 4-5 वार से लगातार झालावाड़ से विधायक है …. 2 वार देश के सबसे बड़े सूबे राजस्थान की पूर्ण बहुमत से वसुंधरा जी मुख्यमंत्री रही है एवं तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने का दावा भी ठोक रही है …. आप राजस्थान भाजपा की पूर्व में प्रदेशाध्यक्ष भी रही है ….

वसुंधरा जी वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी है ….

वर्तमान में झालावाड़ के सांसद भी वसुंधरा जी के सुपुत्र दुष्यंत है जो कि चौथी पांचवी वार लगातार यहां से सांसद है ….
हमारे देश के लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला जी कोटा से सांसद है भाजपा के ….

राजस्थान के इस क्षेत्र अथवा अंचल को हाड़ौती क्षेत्र संभाग या अंचल कहते हैं (संभागीय मुख्यालय कोटा ही है) ….
इस अंचल की सारी लोकसभा सीटों पर भाजपा के ही सांसद है …. इस अंचल की बहुत सी विधानसभा सीटों पर भी भाजपा के विधायक ही निर्वाचित है ….
बारां में एक लड़की के साथ गैंगरेप हुआ है ….
सबका मानना है यहां पीड़िता को न्याय नहीं मिल रहा है सरकार शाशन प्रशासन पुलिस पीड़िता के साथ इंसाफ नहीं कर रही है ….
तो अब पीड़िता को इंसाफ कौन दिलवाएगा ?? ….
राजस्थान में भाजपा मजबूत विपक्ष है ….
सबसे कमाल की बात बारां भी हाड़ौती (कोटा) अंचल/

संभाग में है जहां से वसुंधरा जी एवं दुष्यंत जी और हमारे देश के लोकसभा अध्यक्ष बिड़ला जी है ….
तो ये लोग बारां जा क्यों नहीं रहे क्या वजह है ?? ….
यह कसूर किसका है ?? ….

राजस्थान की जनता का या देश की जनता का या फिर बलात्कार पीड़िता और उसके परिवार का ?? ….
पिछले साल कोटा के जे.के. लोन हॉस्पिटल में नवजात बच्चों की दुःखद मौतें हुई थी जैसे गोरखपुर में एक वार हुई थी …. कोटा के भाजपा सांसद व देश के लोकसभा अध्यक्ष बिड़ला जी जे.के. लोन हॉस्पिटल नहीं गए थे पीड़ित परिवारों से मिलने जबकि उनका घर इस हॉस्पिटल के पास ही है ….
यह कसूर किसका है ?? ….

नवजात मृत बच्चों का या उनके घरवालों का ?? …. या राजस्थान की जनता का ?? ….
केरल बंगाल में कार्यकर्ताओं की हत्या पर ट्वीटर फेसबुक पर श्रद्धांजलि दी जाती है वह भी छुटभैये नेताओं द्वारा या हमारे जैसे गुमनाम लोगों द्वारा ना कि भाजपा आरएसएस के बड़े नेताओं द्वारा ….
5 साल बाद चुनावी मंचों से उन लाशों पर वोट मांगे जाते हैं ….

यह विचारधारा के लिए समर्पित शहीद कार्यकर्ताओं एवं उनके परिवार वालों का कसूर है क्या ?? ….
केवल मुंह से कहने से नहीं होता ना विपक्ष हर घटना पर राजनीति करता है …. फेसबुक ट्विटर पर चिल्लाने या श्रद्धांजलि देने से आप सम्बंधित राज्यों की सत्ता को नहीं घेर सकते हो ….
संघर्ष सड़कों पर होता है फेसबुक ट्विटर पर नहीं ….

संघर्ष सड़कों से विधानसभाओं लोकसभाओं तक होता है ना कि फेसबुक ट्विटर पर होता है ….
भाजपा संगठन तो भारत मे सबसे ज्यादा मजबूत ही राजस्थान में ही है ….
गुजरात से भी ज्यादा मजबूत संगठन ….

आज़ाद भारत की पहली भाजपा सरकार ही 1990 में राजस्थान में ही बनी थी ….
राजस्थान सरकार को घेरना है तो संघर्ष तो करना ही होगा ….
फेसबुकिया लफ्फाजी से सरकारें घिरा और गिरा नहीं करती!! ….

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad