Skip to main content

Posts

ये लोग बिलकुल न लगवाएं कोवैक्सीन - भारत बायोटेक ने लोगों को चेताया

  कोरोना से निजात पाने के लिए देशभर में टीकाकरण का काम लगातार जोर -शोर से चल रहा है. इसी बीच भारत बायोटेक ने फैक्टशीट में कहा है कि इस टीकाकरण को किस बीमारी वाले लोगों को नहीं लगवानी चाहिए. यदि किसी भी बीमारी के कारण  से आपकी इम्युनिटी कमजोर है या आप कुछ ऐसी दवाएं ले रहे हैं, जिससे आपकी इम्युनिटी प्रभावित होती है तो आपको कोवैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए भारत बायोटेक ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है। इससे पहले केंद्र सरकार ने कहा था कि अगर आप इम्युनोडेफिशिएंसी से ग्रस्त हैं या इम्युनिटी सप्रैशन  (Immunity Suppression) पर हैं, यानी आप किसी अन्य ट्रीटमेंट के लिए इम्युनिटी कम कर रहे हैं तो कोरोना वैक्सीन ले सकते हैं. लेकिन अब भारत बायोटेक ने अपने बयान में ऐसे लोगों को कोवैक्सीन न लगवाने की सलाह दी है। भारत बायोटेक के मुताबिक- ये लोग भी कोवैक्सीन न लगवाएं। जिन्हें एलर्जी की शिकायत रही है । बुखार होने पर न लगवाएं । जो लोग ब्लीडिंग डिसऑर्डर से ग्रस्त हैं या खून पतला करने की दवाई ले रहे हैं । गर्भवती महिलाएं, या जो महिलाएं स्तनपान कराती हैं । इसके अलावा भी स्वास्थ्य संबंधी गंभीर मामलों में नहीं लगवानी

कोरोना वैक्सीन को लेकर उठ रहे सवालों के बीच भारत बायोटेक का ऐलान : साइड इफेक्ट हुआ तो देंगे मुआवजा

  देश में कोरोना वायरस के खिलाफ टीका लगाने का अभियान 16 जनवरी शनिवार सुबह से शुरू हो गया। कांग्रेस सरकार ने वैक्सीन पर अनेक सवाल खड़े किए और कांग्रेस पर पलटवार करते हुए भारत बायोटेक ने बड़ा ऐलान किया। कोवैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक का कहना है कि यदि इससे साइड इफेक्ट होता है तो फिर कंपनी की तरफ से उसे मुआवजा मिलेगा। भारत बायोटेक से केंद्र सरकार ने 55 लाख खुराकें अभी खरीदी हैं और शनिवार से शुरू हुए टीकाकरण में उसका इस्तेमाल भी हो रहा है।  टीका लगवाने वाले लोगों द्वारा जिस फॉर्म पर हस्ताक्षर किए जा रहे हैं, उस पर भारत बायोटेक ने कहा है, ''किसी प्रतिकूल या गंभीर प्रतिकूल प्रभाव की स्थिति में आपको सरकारी और अधिकृत केंद्रों और अस्पतालों में मान्यताप्राप्त देखभाल दी जाएगी।'' सहमति पत्र के अनुसार, अगर टीके से गंभीर साइड इफेक्ट होने की बात साबित होती है तो मुआवजा बीबीआईएल द्वारा दिया जाएगा। कोवैक्सीन के टीकाकरण के पहले और दूसरे चरण के क्लिनिकल परीक्षण में कोविड-19 के खिलाफ एंटीडोट विकसित होने की पुष्टि हुई है। , टीके के मेडिकल रूप से प्रभावी होने का तथ्य अभी टीका निर्मा

छात्रों ने अपने खून से CM योगी को लिखा पत्र : मांग पूरी न होने पर दी आत्मदाह की धमकी

  अलीगढ़ में LLB करने वाले छात्रों का जब रिजल्ट आया तो उसमे जब छात्र फेल हो गए तो उसमे से कुछ छात्रों ने अपने खून से  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और कुलपति को खून से पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने बुधवार से तत्काल पास करने का अनुरोध किया है। छात्रों ने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो आत्मदाह कर लेंगे। कुल पांच छात्रों ने खून से पत्र लिखा है।   वहीं इससे पहले वाराणसी के यूपी कॉलेज के प्रबंध सचिव को हटाने के लिए छात्रों ने अपने खून से सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था। छात्र प्रबंध सचिव को हटाने के लिए नौ दिनों से धरने पर बैठे हुए थे। छात्रों ने अपने खून से लिखा हुआ पत्र एसीएम चतुर्थ को सौंपा था। यूपी कॉलेज के धरने पर बैठे हुए छात्रों ने नौवें दिन अपने खून से पत्र लिखकर मुख्यमंत्री को भेजा था।  छात्रों की मांग थी कि कॉलेज सचिव को जल्द से जल्द हटाया जाए और कॉलेज छात्रावास का जीर्णोद्धार कराकर उसे आवंटित किया जाए। पूर्व छात्रसंघ महामंत्री शिवम सिंह बाबू ने कॉलेज प्रबंधन पर आरोप लगाते हुए कहा था कि हमारे कॉलेज प्रबंध समिति में कुछ भ्रष्टाचारी लोग हैं, जो इस पद  के लायक नह

एलन मस्‍क : दुनिया के सबसे अमीर आदमी - 8 कंपनी, 3 शादियां और एक सेकेंड की कमाई....

  टेस्ला कंपनी के सीईओ एलन मस्क ने दुनिया के सबसे अमीर आदमी अमेजन के जेफ बेजॉस को पीछे छोड़ दिया है। आज के दिन वो दुनिया के सबसे अमीर आदमी बन गए हैं. एलन मस्क की कुल पूंजी 188 बिलियन यूएस डॉलर से अधिक है, जो कि अमेजन के संस्थापक जेफ बेजॉस की नेटवर्थ 187 बिलियन यूएस डॉलर से एक बिलियन डॉलर ज्यादा है। आज के दिन जो दुनिया के सबसे अमीर इंसान बने हैं उन्होंने जिंदगी के संघर्षों को झेलते हुए कम बोला और ज्‍यादा किया है। इनकी जिन्‍दगी की कई बातें ऐसी हैं जिसे हर युवा को सीखना चाहिए। एलन मस्क का जन्म दक्षिण अफ्रीका में हुआ था. वे 17 साल की उम्र में कनाडा आ गए थे। ग्रंज वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, एलन बचपन में इतने आत्मविश्लेषी थे कि उनके पेरेंट्स ने डॉक्टर्स को दिखाया था कि कहीं वे बहरे तो नहीं हैं। एलन की मां का  मानना था कि वो डे ड्रीम यानी दिन में काफी सपने देखते हैं। उनकी मां ने एक इंटरव्यू में कहा था कि कई बार ऐसा होता था कि वो अपनी ही दुनिया में खो जाता था और उसे आसपास की सुधबुध नहीं रहती थी। पहले मैं परेशान हो जाती थी लेकिन अब मैं उसे अकेला छोड़ देती हूं क्योंकि मुझे पता है कि वो अपने दि

गुरुग्राम : फर्जी आईडी कार्ड बनवाकर कॉलेज में लड़कियों से छेड़छाड़ करते 2 पकडे

  गुरुग्राम में रेलवे रोड स्थित द्रोणाचार्य गवर्नमेंट कॉलेज में फर्जी आई कार्ड बनाकर अनुशासनहीनता करते हुए छात्र पकड़े गए। बुधवार को स्टाफ सदस्यों ने मिलकर इन छात्रों को पकड़ा और पुलिस को बुलाकर उन्हें थाने भेजा गया। दरअसल, कॉलेज की  छात्राओं को बाहर के स्टूडेंट आकर ही छेड़-छाड़ करते हैं  । कॉलेज के बच्चों का कहना हैं की कई बार पहले भी इन छात्रों को सीसीटीवी के माध्यम से देखा गया। जब बच्चों ने ये बात स्टाफ को बताई तो वहां मौजूद सभी छात्रों से आईडी कार्ड मांगे गए तो दो छात्रों की आईडी कार्ड फर्जी निकले। ये छात्र पहले भी कॉलेज की छात्राओं को परेशान करते हुए नजर आ चुके हैं। लेकिन इन्हें पकड़ा नहीं जा सका। लेकिन इस बार प्रिंसिपल द्वारा  कमिटी बनाकर अलग-अलग साइड से शिक्षकों को भेजा गया और इनकी जांच करवाई गई। वहीं, तुरंत ही इस बात की सूचना पुलिस पीसीआर को भी दी गई। इस मामले को संज्ञान में लेते हुए इन छात्रों को कॉलेज परिसर से तुरंत बाहर भेजा गया। हर साल कॉलेज का आईडी कार्ड अलग-अलग फॉर्मेट से तैयार किए जाते हैं, छात्रों के पास जो आईडी कार्ड था वह बहुत पुराना था, जिसके आधार पर ही उनकी पहचान हुई।

नाबालिग प्रेमी जोड़े ने की आत्महत्या - रिश्ते में भाई-बहन थे दोनों

  उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले के उझानी क्षेत्र में एक गांव के लड़का लड़की ने आत्महत्या कर ली रिश्ते में वो ममेरे-फुफेरे भाई बहन थे और उन दोनों में प्रेम प्रसंग चल रहा था। एक गांव के 17 वर्षीय युवक का गांव में ही रहने वाली अपनी 16 वर्षीय फुफेरी बहन से प्रेम प्रसंग चल रहा था।कुछ दिन पहले एक ग्रामीण ने उन दोनों को साथ बैठे बातचीत करते देख लिया था।  जब उनके घर वालो को इस बात का पता चला की उन दोनों में इस प्रकार का अवैध संबंध है तो वो दोनों डर गए और दोनों ने मरने का फैसला ले लिया और मरने से पहले दोनों ने अपने -अपने परिजनों को बता दिया था की वो दोनों घर नहीं आना चाहते। ऐसी ही बातें प्रेमिका ने अपने पिता को फोन कर कहीं। प्रेमिका ने अपने पिता से यह तक कह दिया कि वह रिश्ते में खोट कर बैठी है, इसलिए प्रेमी के साथ ही जान दे रही है। इसके बाद उनके परिवार वालों में खलबली मच गई।  दो घंटे बाद करीब पांच बजे परिवार वाले ढूंढते हुए तालाब के पास पहुंचे तो पेड़ पर दोनों के शव फंदे से झूलते मिले। प्रधान से घटना की जानकारी मिलने पर प्रभारी निरीक्षक विशाल प्रताप सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए और शव को

अलीबाबा के मालिक को भारी पड़ी चीनी राष्ट्रपति की आलोचना - 2 महीने से लापता हैं जैक मा

  एशिया के सबसे अमीर इंसान और ई-कॉमर्स कंपनी के अलीबाबा और आंट ग्रुप के मालिक जैक मा पिछले दो महीने से गुमशुदा  हैं। जैक मा ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को अपने शब्दों से कटाक्ष करते हुए आलोचना की। जब से चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के निशाने पर आने के बाद से वे किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम में नजर नहीं आए हैं। तभी से चीन के राष्ट्रपति ने  उनकी कंपनी पर लगातार कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है। जैक मा के इस तरह से लापता होने के बाद कई तरह के शक पैदा हो गए हैं। जैक मा चीन में अक्सर सार्वजनिक कार्यक्रमों में बतौर वक्ता मौजूद रहते हैं और अपने मोटिवेशनल भाषणों के लिए युवाओं के हितेषी भी हैं। उन्होंने पिछले साल अक्तूबर में शंघाई में एक कार्यक्रम के दौरान चीन के ब्याजखोर वित्तीय नियामकों और सरकारी बैंकों की तीखी आलोचना की थी। जैक मा ने सरकार से आह्वान किया था कि सिस्टम में बदलाव किया जाना चाहिए ताकि बिजनेस में नई चीजें शुरू करने के प्रयासों को दबाने नहीं जाए। उन्होंने वैश्विक बैंकिंग नियमों को 'बुजुर्गों लोगों का क्लब' करार दिया था।  इस प्रकार का भाषण देने के बाद चीन की सत्तारूढ़ कम